जैफ बेजॉस की जीवनी | Jeff Bezos Biography In Hindi

इस दुनिया में असंभव कुछ भी नहीं, हम वो सब कर सकते है, जो हम सोच सकते है।

@successmatters

दोस्तों यह दुनिया के दूसरे सबसे अमीर आदमी और amazon.com के संस्थापक जैफ बेजॉस के जीवन पर आधारित Jeff Bezos Biography in Hindi एक प्रेरणादायक जीवनी है, जो आपके जीवन व सोचने के नजरिये को बदल सकती है।

आप चाहे महिला है या पुरुष, यह मोटिवेशनल बायोग्राफी आपके लिए बहुत ही प्रेरणादायक साबित हो सकती है। आपको Jeff Bezos Biography in Hindi से बहुत कुछ सीखने को मिलेगा और आप अपनी जिन्दगी के प्रति Motivate inspire हो जाओगे।

आपको यह तो पता चल गया की दुनिया का दूसरे सबसे अमीर आदमी कौन है? लेकिन क्या आपको पता है की दुनिया के दूसरे सबसे अमीर आदमी के पास कितना पैसा है। नहीं! तो आपको इस सवाल का ज़वाब भी इसी ब्लॉग में मिल जाएगा।

Biography of Amazon Inc. Founder Jeff Bezos In Hindi

Jeff Bezos Biography In Hindi

अमेज़ॉन के संस्थापक जैफ बेजॉस की जीवनी

Jeff Bezos के बारे में | About Jeff Bezos

  • Jeff Bezos का पूरा नाम क्या है – जेफरी प्रेस्टन जोर्गेनसन।
  • Jeff Bezos कहाँ का रहने वाला है – सयुंक्त राष्ट्र अमेरिका।
  • Jeff Bezos का जन्म कब और कहाँ हुआ – 12 जनवरी , 1964 · जन्म स्थान- अल्बुकर्क, न्यू मेक्सिको, अमेरिका।
  • Jeff Bezos के माता पिता कौन है – माँ – जैकलीन जोर्गेनसेन ( Jacklyn Jorgensen ) व पिता – टेड जोर्गेनसेन ( Ted Jorgensen )।
  • Jeff Bezos का बिज़नेस क्या है  – बिजनेसमैन, निवेशक, मीडिया प्रोप्रिएटर।
  • Jeff Bezos कौन है – अमेज़न डॉट कॉम ( amozon.com ) व द वाशिंगटन पोस्ट ( The Washington Post ) के मालिक।
  • Jeff Bezos की Wife/Spouse– मैकेंजी टटल ( Mackenzie Tuttle ) ( 2019 में तलाक )
  • Mackenzie Bezos की कुल संपत्ति – 58.8 बिलियन USD
  • Jeff Bezos के कितने बच्चे है – 4 ( तीन लड़के व एक लड़की )
  • Jeff Bezos Networth रुपयों में  – 190.7 बिलियन डॉलर लगभग 14325 अरब रूपए है । ( फ़ोर्ब्स मैगज़ीन के 21/11/2020 आकड़ों के अनुसार )
  • Jeff Bezos की Salary कितनी है  – 81840 डॉलर्स।
  • Jeff Bezos income प्रति दिन -लगभग $ 321 मिलियन ( 32.1 करोड़ )
  • Jeff Bezos की उम्र Age – 56 साल ( 12 जनवरी 2020 के अनुसार )  
  • Jeff Bezos की email idjeff@amazon.com

Jeff Bezos कौन हैं | Who is Jeff Bezos?

जैफ बेजॉस एक अमेरिकी उद्योगपति, अमेजॉन डॉट कॉम ( Amazon.Com) के संस्थापक व मुख्य कार्यकारी अधिकारी ( CEO), तथा द वाशिंगटन पोस्ट ( The Washington Post ) के मालिक हैं। इसके अलावा वे ब्लू ओरिजिन ( Blue Origin ) कंपनी के मालिक है, जिसका मुख्य उद्देश्य अंतरिक्ष में मानव की पहुंच को सक्षम बनाने के लिए प्रौद्योगिकियों का विकास करना है। इन सब के अलावा वे दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति हैं।  

Jeff Bezos का जन्म | When Jeff Bezos’s born?

Jeff Bezos का वास्तविक नाम जैफरी प्रेस्टन जोर्गेनसेन था। जैफ बेज़ोस का जन्म 12 जनवरी 1964 में अमेरिका के अल्बूकर्क, न्यू मैक्सिको में हुआ था। जेफ बेज़ोस के जन्म के समय उनकी मां जैकलिन जोर्गेनसेन 17 साल की एक नाबालिक लड़की थी । जबकि उनके पिता टेड जुर्गेनसेन एक मोटरसाइकिल बिक्री शॉप के मालिक थे।

Jeff Bezos के माता-पिता | Jeff Bezos’s Parents

जैफ बेजॉस ( Jeff Bezos ) के माता – पिता जैकलिन जोर्गेनसेनटेड जोर्गेनसेन के बीच संबंध बहुत कम समय के लिए ही रहे तथा शादी के एक साल के अंदर ही उनका तलाक हो गया। जब जेफ़ बेज़ोस लगभग 4 साल के थे तो उनकी मां जैकलिन जोर्गेनसेन ने क्यूबा के एक अप्रवासी व्यक्ति म्युगल माइक बेज़ोस से शादी कर ली।

शादी के कुछ समय बाद ही माइक ने जेफ़ जोर्गेनसेन को गोद ले लिया। इस तरह जैफ जोर्गेनसेन का नाम अपने नए पिता माइक बेज़ोस के नाम पर जैफ बेजॉस पड़ गया।

Jeff Bezos की शिक्षा | Education of Jeff Bezos

शादी के कुछ समय बाद ही जैफ बेज़ोस के पिता माइक बेज़ोस अपने पूरे परिवार के साथ हाउस्टन, टेक्सास (Houston, Texas) चले गए। जैफ बेज़ोस ने 4th क्लास से 6th क्लास की अपनी पढ़ाई यहां के रिवर ऑक्स एलिमेंट्री स्कूल ( River Oaks Elementary School ) से पूरी की। जैफ बेज़ोस अक्सर गर्मियों में अपने नाना के यहां उनके पुश्तैनी खेतों में चले जाया करते थे। जैफ बेज़ोस ने अपनी युवावस्था के कुछ साल अपने नाना के यहां खेतों में काम करते हुए ही गुजारे हैं।

जैफ बेज़ोस का आरंभिक जीवन | Jeff Bezos’s Early Life

जैफ बेज़ोस की विज्ञान और तकनीकी में बचपन से ही रुचि थी। उन्होंने बचपन में ही अपने छोटे भाई बहनों को अपने कमरे से दूर रखने के लिए अपने कमरे में एक इलेक्ट्रिक अलार्म लगा दिया था। ताकि कोई भी उसके कमरे में ना घुस पाए। बचपन से ही वैज्ञानिक वस्तुओं के प्रति उनकी इतनी गहरी रुचि थी कि उन्होंने अपने पिता के गैराज को अपनी प्रयोगशाला बना लिया था तथा वहां पर अपने वैज्ञानिक प्रयोग करते रहते थे।

Jeff Bezos की उच्च शिक्षा | Higher Education of Jeff Bezos

हाउस्टन, टैक्सास में कुछ साल गुजारने के बाद उनका पूरा परिवार मियामी, फ्लोरिडा (Miami, Florida) चला गया। यही के मियामी पालमैटो हाई स्कूल से जैफ बेज़ोस ने अपनी हाई स्कूल की पढ़ाई भी पूरी की। अपने हाईस्कूल की पढ़ाई के दौरान ही उन्होंने कुछ समय तक मैकडोनाल्ड में नाश्ते की शिफ्ट के दौरान छोटे आर्डर लेने वाले रसोईए के रूप में भी कार्य किया। इसी दौरान उन्होंने फ्लोरिडा यूनिवर्सिटी में छात्र विज्ञान प्रशिक्षण प्रोग्राम में भी भाग लिया था।

उन्होंने बहुत अच्छे अंको से हाई स्कूल की परीक्षा पास की, जिस कारण उन्हें नेशनल मेरिट स्कॉलर चुना गया। उन्होंने अपनी स्नातक की पढ़ाई प्रिंसटन यूनिवर्सिटी से विज्ञान के स्नातक के रूप में इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंगकंप्यूटर साइंस में पूरी की।

Jeff Bezos का शुरुआती व्यवसाय | Jeff Bezos’s early business

प्रिंस्टन यूनिवर्सिटी से स्नातक की उपाधि प्राप्त कर लेने के बाद जेफ़ बेज़ोस को बहुत सी कंपनियों से नौकरी की पेशकश मिली जैसे इंटेल (Intel), फिटेल, बेल लैब्स (Bell Labs) आदि। परंतु जैफ बेजॉस ने फिटेल कंपनी में जॉब करने को चुना, जो कि एक दूरसंचार क्षेत्र की स्टार्टअप कंपनी थी।

भविष्य की संभावनाओं को ध्यान में रखकर उन्होंने यहां नौकरी करने का फैसला लिया। इस कंपनी में उन्हें अंतरराष्ट्रीय व्यापार के लिए एक मजबूत नेटवर्क तैयार करने का कार्य सौंपा गया। जिसे जैफ बेजॉस ने बखूबी अंजाम दिया और उनकी इस योग्यता से खुश होकर कंपनी ने बहुत ही कम समय में उन्हें पहले हेड ऑफ डेवलपमेंट (Head of Development ) और उसके बाद डायरेक्टर ऑफ कस्टमर सर्विसेज ( Director of Customer Services ) के पद पर पदोन्नत कर दिया।

इस कंपनी में उन्होंने 1986 से 1988 तक कार्य किया इसके बाद वे बैंकर्स ट्रस्ट में उत्पाद प्रबंधन के रूप में कार्य करने लगे। यहां कार्य करते हुए जैफ बेज़ोस ने बैंकिंग क्षेत्र में महत्वपूर्ण बदलाव भी किए। 1990 में ही उन्होंने डी ई शा एंड कंपनी ( D E Shaw & Co.) में नौकरी मिल गई, जो कि एक हेज फंड कंपनी थी। इसी कंपनी में कार्य करते हुए केवल 30 वर्ष की उम्र में ही वे D.E Shaw के सबसे युवा वरिष्ठ उपाध्यक्ष भी बने।

Amazon.com की स्थापना | Establishment of Amazon.com

Amazon.com बनाने का शुरुआती फैसला जैफ बेज़ोस के द्वारा 1993 में एक ऑनलाइन बुक स्टोर के रूप में लिया गया था। डी ई शॉ कंपनी से अपनी नौकरी छोड़ने के बाद 5 जुलाई 1994 को जेफ़ बेज़ोस ने अपने गैराज में बैठकर Amazon.com की स्थापना की, जिसकी पूरी कार्ययोजना उन्होंने 1994 की शुरुआत में ही न्यूयॉर्क सिटी से सीएटल की अपनी क्रॉस कंट्री यात्रा के दौरान ही बना ली थी।

जैफ बेज़ोस ने अपनी कंपनी Amazon.com का शुरुआती नाम कैडबरा (Cadabra) रखा था। लेकिन बाद में इस सोच से प्रभावित होकर की वर्णमाला का पहला अक्षर A से शुरू होता है तो उन्होंने कंपनी का नाम दक्षिण अमेरिका की सबसे बड़ी नदी अमेजॉन के नाम पर Amazon.com रख दिया।

Jeff Bezos Biography In Hindi

Amazon.com में अपने शुरुआती निवेश के रूप में $300000 उन्होंने अपने माता-पिता से तथा बाकी अन्य निवेशकों से उधार लिए थे। अपने निवेशकों को उन्होंने पहले ही यह चेतावनी दे दी थी कि कंपनी के सफल होने की संभावनाएं बहुत कम है और हो सकता है कि कंपनी ना चले और दिवालिया हो जाए।

हालांकि जैफ बेज़ोस ने Amazon.com कंपनी की स्थापना एक ऑनलाइन बुक स्टोर के रूप में की थी। लेकिन इसे एक बुक स्टोर तक ही सीमित रखने की योजना उनके दिमाग में कभी नहीं आई थी। बल्कि वे तो शुरुआत से ही एक बड़ी योजना पर काम कर रहे थे, जिसके अनुसार वे भविष्य में अन्य उत्पादों के विस्तार की योजना बना रहे थे।

Amazon.com की स्थापना के तीन साल बाद ही जैफ बेजॉस ने कंपनी के आईपीओ ( IPO ) जारी करके इसे शेयर मार्केट में रजिस्टर करा दिया, जिसमें अब कोई भी निवेश कर सकता था।

उन्होंने सबसे पहले 1998 में उत्पाद में विविधता के रूप में संगीत व वीडियोस की ऑनलाइन बिक्री शुरू की तथा 1998 के अंत तक Amazon.com ने कुछ अन्य उपभोक्ता उत्पादों को भी अपनी बिक्री में शामिल कर लिया था। अपनी कुछ परियोजनाओं के विस्तार के लिए उन्हें बैंकों से लगभग 2 बिलियन डॉलर का क़र्ज़ भी लेना पड़ा। क्योंकि कंपनी के पास वितिय संसाधनों के रूप में केवल $350 मिलियन ही रह गए थे। 2002 में Amazon.com ने amazon web-service की शुरुआत की। यह कंपनी मौसम चैनलों से डाटा इकट्ठा करती थी।

ऐसा नहीं है कि उसके बाद जैफ बेजॉस लगातार सफलता की सीढ़ियों पर चढ़ते रहे। बल्कि उन्होंने भी वित्तीय घाटे के रूप में असफलता का मुंह देखना पड़ा। जब अत्यधिक खर्चों के कारण Amazon.com दिवालिया होने की कगार पर खड़ी थी। जैफ बेज़ोस को अमेजॉन कंपनी के वितरण केंद्रों को भी बंद करना पड़ा था और इसके अलावा कंपनी के 14 प्रतिशत कर्मचारियों को नौकरी से हटाना पड़ा था।

लेकिन उन्होंने इस कठिन परिस्थिति में भी हार नहीं मानी। उन्होंने अपने हौसलें को बनाए रखा तथा 2003 में दोबारा वितीय स्थिरता हासिल की इसके साथ ही कंपनी ने $400 मिलियन का मुनाफा भी कमाया। नवंबर 2007 में अमेजॉन ने अपने नए प्रोडक्ट अमेजन किंडल को लांच करके ई बुक (E-Book) क्षेत्र में क्रांति ला दी।

यह एक ऐसा प्लेटफार्म था जहां कोई भी व्यक्ति ऑनलाइन किसी भी बुक को पढ़ सकता था। 2013 में जैफ बेजॉस ने सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी (CIA) के साथ 600 मिलियन डॉलर का समझौता किया और इसके साथ ही Amazon.com दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन शॉपिंग रिटेलर कंपनी बन गई। 2017 में Amazon.com ने अपने वितरण केंद्रों को दोबारा शुरू कर दिया। जिसके लिए लगभग 130000 नए कर्मचारियों को भर्ती किया गया।

जुलाई 2017 में जैफ बेजॉस कुछ समय के लिए बिल गेट्स को पछाड़कर दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बने थे जब उनकी नेटवर्क बढ़कर 90 बिलियन डॉलर हो गई थी तथा नवंबर 2017 में यह 100 बिलियन डॉलर को पार कर गई। फोर्ब्स मैगजीन जो दुनिया के सबसे अमीर व्यक्तियों की सूची जारी करती है, ने 6 मार्च, 2018 को 112 बिलीयन डॉलर की संपत्ति के साथ जैफ बेज़ोस को दुनिया का सबसे अमीर आदमी घोषित किया।

Blue Origin कंपनी की स्थापना | Establishment of Blue Origin Company

जैफ बेजॉस ने ब्लू ओरिजिन ( BLUE ORIGIN ) कंपनी की स्थापना सितंबर 2000 में एक स्टार्टअप कंपनी के रूप में की थी। इस कंपनी का मुख्य उद्देश्य है मानव की अंतरिक्ष में पहुंच व विकास से संबंधित प्रौद्योगिकी पर काम करना है। जैफ बेज़ोस की रुचि हमेशा से ही विज्ञान और तकनीक के क्षेत्र में रही है और शायद इसी रुचि ने उनके इस सपने को भी उनके दिमाग में आकार दिया कि, अंतरिक्ष में मानव जाति का विकास संभव है। अपने स्नातक के दौरान दिए गए भाषण में भी उनके इस सपने की झलक मिलती है। जिसमें उन्होंने कहा था कि मेरा सपना मानव जाति की अंतरिक्ष में पहुंच को सक्षम बनाने का है।

सितंबर, 2011 में कंपनी द्वारा निर्मित मानव रहित अंतरिक्ष विमान परीक्षण के दौरान दुर्घटनाग्रस्त हो गया। जिससे कंपनी के इरादों को बहुत बड़ा झटका लगा और सभी समाचार पत्रों व न्यूज़ चैनलों ने इसे कंपनी ब्लू ओरिजन (Blue Origin) की नाकामयाबी के रूप में देखा। लेकिन जैफ बेज़ोस ने हार नहीं मानी और 2015 में इसके अंतरिक्ष यान न्यू शेफर्ड ने पश्चिमी टैक्सास के अपने अंतरिक्ष प्रक्षेपण केंद्र से सफलतापूर्वक अंतरिक्ष में उड़ान भरी तथा अपने प्रक्षेपण स्थल पर दोबारा लौट कर आने से पहले 100.5 किलोमीटर की दूरी भी तय की। 

जैफ बेज़ोस के अनुसार उनकी कंपनी ब्लू ओरिजन का मुख्य उद्देश्य मानव को बहु – ग्रही बनाना है ताकि पृथ्वी के प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण किया जा सके। इसी उद्देश्य की प्राप्ति के लिए जैफ बेज़ोस निर्मित ब्लू ओरिजन कंपनी अंतरिक्ष में अपनी वाणिज्यिक उड़ानों को भी विस्तार दे रही है।

The Washington Post की अधिग्रहण | The acquisition of The Washington Post

जैफ बेजॉस के स्वामित्व वाली एक होल्डिंग कंपनी नैश होल्डिंग्स ने 5 अगस्त 2013 को द वाशिंगटन पोस्ट ( The Washington Post ) नामक अखबार को 250 मिलियन डॉलर में खरीदा। 2016 में जैफ बेजॉस ने कई प्रकार के सॉफ्टवेयर के इस्तेमाल से समाचार मीडिया में पूरी तरह से क्रांति ला दी और अखबार का डिजिटलीकरण कर दिया।

जिससे उन पर कागज ( अखबार ) के हितों के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाया गया और यह आरोप लगाया गया कि उन्होंने कागज ( अखबार ) की सामग्री की स्वतंत्रता को गलत तरीके से नियंत्रित किया है। जैफ बेज़ोस व अखबार के संपादकीय बोर्ड ने सभी आरोपों को खारिज कर दिया। 2016 में ही ऑनलाइन अखबार पढ़ने वालों की संख्या में बहुत तेजी से वृद्धि होने के बाद अखबार ने 2013 के बाद पहली बार मुनाफा कमाया।

बेज़ोस अभियान की शुरुआत | Begining of Bezos campaign

अमेजॉन डॉट कॉम ( Amazon.Com), या ब्लू ओरिजन ( Blue Origin) के अलावा भी जैफ बेजॉस ने अपने बेजॉस एक्सपीडिशन नामक अभियान के तहत बहुत सी अन्य कंपनियों में भी निवेश किया है उनके पास गूगल कंपनी के शेयर हैं जो उन्होंने 1998 में खरीदे थे। 2017 में उनकी कीमत 3.1 बिलीयन डॉलर यानी लगभग 230 अरब रुपए थी।

इनके अलावा भी उन्होंने बहुत सारी हेल्थ केयर कंपनी में निवेश किया हुआ है जैसे ही यूनिटी बायोटेक्नोलॉजी ( Unity Biotechnology ), ग्रैल (Grail ), जूनो थेरैप्यूटिक्स ( Juno Therapeutics ) और zocdoc

इन्हीं में से एक unity biotechnology, जोकि एक जीवन विस्तार शोध फर्म है और इस विषय पर शोध करती है कि इंसान की बढ़ती उम्र की प्रक्रिया को धीमा या बिल्कुल बंद किया जा सके। जैफ बेजॉस हमेशा से ही दूरदर्शी रहे हैं और जिस तरह की परियोजनाओं में निवेश करते हैं उनसे साफ तौर पर उनके दूरदर्शी होने की झलक मिलती है।

Jeff Bezos का व्यक्तिगत जीवन | Personal life of Jeff Bezos

1992 में जब जैफ बेज़ोस, डी ई शॉ कंपनी में नौकरी कर रहे थे, तो वहां पर उनकी मुलाकात मैकेंजी टटल से हुई, जो कि उसी कंपनी में एक शोध सहायक के रूप में नौकरी कर रही थी। दोनों ने एक साल बाद ही शादी कर ली। बेज़ोस व उनकी पूर्व पत्नी मैकेंजी टटल ( 2019 में उनके तलाक के बाद ) के 4 बच्चे हैं। जिनमें से 3 लड़के व एक लड़की है।

काफी समय तक अलग रहने के बाद जनवरी 2019 में जैफ बेजॉस व उनकी पत्नी मैकेंजी टटल ने ट्विटर पर तलाक लेने की घोषणा की। 4 अप्रैल 2019 को तलाक की सारी प्रक्रिया पूरी होने के बाद जैफ बेज़ोस को अमेजॉन शेयर का 25% हिस्सा मैकेंजी टटल, उनकी पूर्व पत्नी को देना पड़ा।

Jeff Bezos की कुल संपत्ति व वेतन | Jeff Bezos’s net worth and salary

अक्सर आपस में बातें करते हुए यह बात आ जाती है की दुनिआ के सबसे अमीर आदमी की इनकम कितनी होगी या फिर दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति की संपत्ति कितनी है और दुनिया के सबसे रिच मैन का लाइफस्टाइल क्या होगा। तो इसके ज़वाब में मैं आपको बता दूँ की Forbes.com के 11/02/2021 के आंकड़ों के अनुसार दुनिया के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति जैफ बेज़ोस की कुल संपत्ति 190.7 बिलियन डॉलर लगभग 14325 अरब रूपए है ।

जेफ़ बेज़ोस प्रतिदिन 250 मिलियन डॉलर्स यानि 18 .88 अरब रूपए कमाते है। जैफ बेज़ोस 2018 व 2019 में लगातार दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति रहे हैं। जेफ बेज़ोस हर साल $81840 का वेतन भुगतान पाते हैं। जो वे 1998 से लगातार वेतन के रूप में हासिल कर रहे हैं। 2018 में पहली बार बिल गेट्स को पछाड़कर वे दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बने थे। दुनिआ के सबसे अमीर व्यक्ति होने के बावज़ूद जेफ़ बेज़ोस बहुत ही सीधा साधा जीवन जीते है।

जेफ बेजोस परोपकारी कार्य | Jeff Bezos Philanthropic work

दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति होने के साथ-साथ जैफ बेजॉस बहुत सारी लोक-परोपकारी परियोजनाएं भी चला रहे हैं। 2018 में अमेरिकी बेघरों की समस्या से निपटने के लिए उन्होंने डे वन फैमिली फंड (Day One Family Fund) की शुरुआत की। इसी के साथ एक अन्य फंड, डे वन एकेडमी फंड (Day One Academies Fund) जो उन बच्चों को मुफ्त प्री स्कूलिंग शिक्षा उपलब्ध कराने से संबंधित है जिन समुदायों की आय बहुत कम है।

इन दोनों फंड्स के वित्त पोषण के लिए आरंभिक निधि के रूप में उन्होंने 2 बिलीयन डॉलर की राशि का भुगतान किया। 2018 में ही जैफ बेज़ोस ने विद ऑनर्स (With Honor) नामक एक निष्पक्ष संस्था को 10 मिलियन डॉलर दान के रूप में दिए। इस संस्था का मुख्य उद्देश्य राजनीतिक दफ्तरों में वृद्ध व्यक्तियों की संख्या को बढ़ाना है। 17 फरवरी 2020 में जैफ बेज़ोस ने बेज़ोस अर्थ फंड (Bezos Earth Fund) के माध्यम से 10 बिलियन डॉलर का दान किया। इस फंड का मुख्य उद्देश्य जलवायु परिवर्तन से हो रहे नुकसान को कम करना है।  


जैफ बेजॉस ने कोविड -19 महामारी के दौरान अमेरिका में खाने की समस्या को दूर करने के लिए 100 मिलियन डॉलर का दान भी किया है। इनके अलावा भी जैफ बेजॉस बहुत सारी परोपकारी योजनाओं का भी वित्त पोषण कर रहे हैं। जैफ बेज़ोस की खुद की मेहनत व लगन ने ही उन्हें महान व दुनिया का सबसे अमीर आदमी ( 2018 -२०२२ ) बनाया।

Jeff Bezos का घर | Jeff Bezos’s house

दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति जैफ बेजॉस ने अमेरिका के लॉस एंजेल्स स्थित, बेवर्ली हिल्स मेंशन को 16.5 करोड डॉलर लगभग 1171.6 करोड रुपए में खरीदा है। यह एक बहुत ही आलीशान घर है और सभी सुख सुविधाओं से सुसज्जित है। यह लॉस एंजिल्स में अब तक का सबसे महंगा सौदा है।

एक अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जर्नल के अनुसार दुनिया के दूसरे सबसे अमीर आदमी जैफ बेजॉस ने यह घर जिसका नाम वॉर्नर एस्टेट है, को एक मीडिया कारोबारी डेविड गेफन से खरीदा है। लगभग 9 एकड़ में फैला यह बंगला वार्नर ब्रदर्स के पूर्व अध्यक्ष जैक वार्नर ने 1930 में बनवाया था। इसमें एक गेस्ट हाउस, एक टेनिस कोर्ट, गोल्फ कोर्स, कार पार्किंग, लाइब्रेरी और आधुनिक घरों में पाई जाने वाली लगभग सभी सुविधाएं मौजूद है।

Jeff Bezos ने किया Amazon.com के CEO पद से Retirement का फैसला।

 3 फरवरी 2021 को अमेजॉन डॉट कॉम के संस्थापक जैफ बेजॉस ने अमेजन के सीईओ पद से रिटायरमेंट की घोषणा की है। 1994 में कंपनी की स्थापना से लेकर अब तक लगभग 3 दशकों से वे अमेजॉन के सीईओ पद पर बने हुए थे। जैफ बेजॉस ने अमेजॉन डॉट कॉम की स्थापना एक ऑनलाइन बुक स्टोर के रूप में की थी और आज amazon.com दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है। 

57 वर्षीय जैफ बेजॉस ने अमेजॉन के सीईओ पद से रिटायरमेंट की घोषणा एक पत्र लिखकर की है जिसमें उन्होंने अपने कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि वे रिटायर नहीं हो रहे हैं बल्कि कंपनी के रोजमर्रा के कामों से समय निकालकर दीर्घकालिक योजनाओं पर अधिक ध्यान देना चाह रहे हैं। वे चाहते हैं कि उनके स्वामित्व वाली दूसरी कंपनियों जैसे कि ब्लू ओरिजन, डे 1 फंड, बेज़ोस फंड और वाशिंगटन पोस्ट पर ज्यादा ध्यान दिया जाए। 

हालांकि कंपनी में कार्यकारी अध्यक्ष बने रहेंगे। जैफ बेजॉस कंपनी के सबसे बड़े शेयर धारक भी हैं। उनकी जगह 52 साल के Andy Jassy लेंगे। Andy Jassy अभी तक अमेजॉन क्लाउड कंप्यूटिंग अमेजॉन वेब सर्विसेज के CEO  पद को संभाल रहे थे।

  • Andy Jassy एक अमेरिकन बिजनेसमैन और अमेरिकन नेशनल हॉकी लीग में सिएटल कॉक्रेन टीम के आंशिक हिस्सेदार भी है।
  • Andy Jassy ने अमेरिका की हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से एमबीए की पढ़ाई की है। 
  • 1997 में अमेजॉन कंपनी में प्रोजेक्ट मैनेजर के रूप में शामिल हुए थे।
  • अमेज़न ने 2006 में क्लाउड कंप्यूटिंग के प्लेटफार्म के रूप में अमेजॉन वेब सर्विसेज की शुरुआत की थी जिसकी कमान 57 लोगों की एक टीम के साथ Andy Jassy को सीनियर वाइस प्रेसिडेंट के रूप में दी गई थी तथा अप्रैल 2016 में Andy Jassy को सीनियर वाइस प्रेसिडेंट से सीईओ के लिए प्रमोट कर दिया गया था। अमेजॉन क्लाउड कंप्यूटिंग प्रोग्राम अमेजॉन वेब सर्विसेज को नई पहचान दिलाई है। 
  • दुनिया के लगभग 30% क्लाउड कंप्यूटिंग सेवाओं के कारोबार पर अमेजॉन वेब सर्विसेज का कब्ज़ा है।
  • एंडी जस्सी के पास अमेज़न के 85000 शेयर हैं जिनकी 2021 में कीमत लगभग ₹20 अरब रुपए है। 
  • एंडी जस्सी वहां की सरकार के खिलाफ सामाजिक मामलों व  राजनीतिक मामलों में खुलकर बोलते हैं।

Biography of Amazon Inc. Founder Jeff Bezos

जैफ बेजॉस जीवन की मुश्किलों से कभी नहीं डरे। चाहे वह Amazon.com में वित्तीय घाटे के कारण दिवालिया होने की संभावना की बात हो या फिर उनकी कंपनी ब्लू ओरिजन में परीक्षण के दौरान विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने की बात हो या फिर बीस साल के उनके वैवाहिक संबंधों के टूटने की बात हो। उन्होंने कभी हार नहीं मानी।

इन सभी असफलताओं के बाद भी वे दोबारा खड़े हुए, ज्यादा हौसले के साथ, ज्यादा भरोसे के साथ और वह यह साबित कर दिया कि अगर आप के हौसलों में जान है तो आपको कामयाब होने से कोई नहीं रोक सकता।

इनके बारे में भी पढ़े।

Read More -:

आपको मेरा यह ब्लॉग ‘जैफ बेजॉस की जीवनी | Jeff Bezos Biography In Hindi‘ कैसा लगा, मुझे कमेंट करके बताएं।

अगर आपको मेरा यह ब्लॉग ‘ The Richest man in the world ‘Amazon.com’ Founder Jeff Bezos Biography in Hindi‘ अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों को भी शेयर करें।

ताकि जो लोग जीवन में कुछ करना  चाहते है, कुछ बनना चाहते।  लेकिन जीवन की मुसीबतों के कारण हार मान कर बैठ गए है वे इस Jeff Bezos Biography in Hindi  से inspire हो सके, motivate हो सके।

मेरे फेसबुक पेज पर जाकर इसे लाइक व अपने दोस्तों के साथ शेयर करें, लिंक नीचे दे दिया गया है।

Follow me on Facebook

https://www.facebook.com/successmatters4me-113401247074883

Add a Comment

Your email address will not be published.