दलेर मेहंदी का जीवन परिचय । Daler Mehndi Biography in Hindi

दोस्तों, इस Daler Mehndi Biography in Hindi में आप भारत के एक ऐसे जाने-माने संगीत कलाकार के बारे में जानेंगे जिन्होंने अपनी मधुर आवाज और बेहतरीन गायन शैली के बलबूते ने केवल भारत में ही बल्कि पूरी दुनिया में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। 

Daler Mehndi Biography in Hindi

Daler Mehndi Biography in Hindi

दलेर मेहंदी कौन है | Who is Daler Mehndi?

दिलेर मेहंदी भारत के जाने-माने गायक, गीतकार, लेखक और संगीत निर्माता है। इन्होंने पंजाबी भांगड़ा को पूरी दुनिया में प्रसिद्धि दिलाने के साथ-साथ भारतीय पॉप संगीत को बॉलीवुड संगीत से अलग पहचान दिलाने के लिए भी जाना जाता है। इनका पूरा नाम दलेर सिंह है। हालांकि संगीत जगत में इन्हें दिलेर मेहंदी के नाम से जाना जाता है। 

दलेर मेहंदी का जन्म और परिवार | Birth and Family of Daler Mehndi

दलेर मेहंदी का जन्म 18 अगस्त 1967 को बिहार के पटना जिले में हुआ था। इनके पिता का नाम अजमेर सिंह चंदन है तथा इनकी माता का नाम बलबीर कौर है। इनकी माता बलवीर कौर एक राज्यस्तरीय पहलवान भी रह चुकी हैं। जबकि इनके पिता अजमेर सिंह चंदन अपने जमाने के एक बेहतरीन गायक रह चुके हैं। 

दलेर मेहंदी समेत यह कुल पांच भाई हैं। जिनमें से शमशेर सिंह मेहंदी इन के सबसे बड़े भाई हैं तथा बेहतरीन गायन शैली के लिए दुनिया भर में जाने माने मीका सिंह इनके सबसे छोटे भाई हैं। 

दिलेर मेहंदी की शादी और बच्चे | Daler Mehndi’s marriage and children

दलेर मेहंदी और उनकी पत्नी तरनप्रीत कौर एक बहुत ही खुशहाल दांपत्य जीवन बिता रहे हैं। इन दंपत्ति के चार बच्चे हैं जिनके नाम है गुरदीप मेहंदी, अजीत कौर मेहंदी, रबाब कोर मेहंदी और प्रभुज कौर मेहंदी। हाल ही में दलेर मेहंदी ने अपनी बेटी अजीत कौर मेहंदी की शादी पंजाबी सिंगर हंसराज हंस के बड़े लड़के नवराज हंस के साथ की है जबकि दिलेर मेहंदी के लड़के गुरदीप मेहंदी ने अपनी साथी अभिनेत्री जेसिका सिंह के साथ 2004 में शादी की। 

दिलेर मेहंदी का म्यूजिक कैरियर | Daler Mehndi’s Music Career

दलेर मेहंदी की आवाज में एक प्रकार का जादू है। जो उनकी आवाज एक बार सुन लेता है वह मंत्रमुग्ध हो जाता है। पंजाबी पृष्ठभूमि से होने के कारण उनकी गायन शैली में सूफियाना अंदाज है, जो उनकी आवाज को और ज्यादा मधुर और आकर्षक बनाता है। दलेर मेहंदी का म्यूजिक कैरियर बड़ा शानदार रहा है। 

दलेर मेहंदी का पहला म्यूजिक एल्बम | Daler Mehndi’s first music album

1995 में दलेर मेहंदी ने मैकग्रासाउंड के साथ एक कॉन्ट्रैक्ट साइन किया था। इस कांटेक्ट के तहत उन्होंने 3 साल के लिए 3 म्यूजिक एल्बम करने का कॉन्ट्रैक्ट किया था। जिसमें से उनकी पहली म्यूजिक एल्बम 1995 में आई थी, जिसका नाम था ‘बोलो तारा रा रा रा’। 

1995 में आई दिलेर मेहंदी की इस म्यूजिक एल्बम ने भारतीय म्यूजिक इंडस्ट्री में ऐसी धूम मचाई कि देखते ही देखते इस म्यूजिक एल्बम की 20 मिलियन कोपिया बिक गई। 

दलेर मेहंदी की अन्य म्यूजिक एल्बम | Other music albums of Daler Mehndi

पहली हिट एल्बम ‘बोलो तारा रा रा रा’ के बाद मैकग्रासाउंड  के साथ किए कॉन्ट्रैक्ट के तहत इनकी दूसरी म्यूजिक एल्बम 1996 ‘डर दी रब रब करदी’ रिलीज हुई थी। जिसने पूरे भारत में धूम मचा दी थी। पहली एल्बम की सफलता पर इनके जो विरोधी यह कह रहे थे कि यह बस एक बार की सफलता है। यह एल्बम उनके मुंह पर करारा तमाचा साबित हुई और इस एल्बम ने इनके सब विरोधियों के मुंह बंद कर दिए थे। 

मैकग्रासाउंड के साथ में कॉन्ट्रैक्ट के तहत ही इनकी तीसरी म्यूजिक एल्बम 1997 में ‘बल्ले बल्ले’ रिलीज हुई थी। इस म्यूजिक एल्बम ने म्यूजिक इंडस्ट्री में कई रिकॉर्ड तोड़े और कई नए रिकॉर्ड बनाए। इसके बाद से उन्हें ‘द टरबाइन टारनेडो’ और ‘सुल्तान ऑफ़ स्विंग’ जैसे नामों से जाना जाने लगा था। 

लगातार तीन सुपरहिट म्यूजिक एल्बम देने के बाद दिलेर मेहंदी ने म्यूजिक जगत में अपनी एक अलग पहचान कायम कर ली थी। वह एक ब्रांड के रूप में फेमस हो चुके थे। लोग उनके गानों को पसंद करने लगे थे। इसी कड़ी में 1998 में उनकी एक और म्यूजिक एल्बम रिलीज हुई जिसका नाम था ‘तुनक-तुनक दा’ यह म्यूजिक एल्बम भी लोगों द्वारा काफी पसंद की गई थी। 

दलेर मेहंदी का पहला बॉलीवुड सॉन्ग | Daler Mehndi’s first Bollywood song

  • भारतीय संगीत जगत में अपनी अलग पहचान बना चुके दिलेर मेहंदी ने पहली बार 1997 में फिल्म मृत्युदाता के लिए ‘ना ना ना रे’ गाना गाकर अपने बॉलीवुड कैरियर की शुरुआत की थी। दिलेर मेहंदी साहब ने इस गाने को खुद ही कंपोज किया था। 1997 में बनी इस सुपरहिट फिल्म में भारतीय सिनेमा जगत के जाने-माने कलाकार अमिताभ बच्चन जी ने बतौर मुख्य अभिनेता अभिनय किया था। 
  • इसके अगले ही साल 1998 में फिल्म खौफ के लिए भी ‘अंख लड़दी है तो लड़ने दे’ के लिए प्लेबैक सिंगिंग और म्यूजिक कंपोज किया था। इस बॉलीवुड मूवी में यह सॉन्ग रवीना टंडन पर फिल्माया गया था। 
  • दलेर मेहंदी के द्वारा साल 2000 में अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा के साथ फिल्मया ‘सजन मेरा सतरंगिया’ गाना काफी पॉपुलर हुआ था। इस एल्बम ‘एक दाना’ में इन्होंने फॉक, रॉक और पॉप तीनों तरह के संगीत को मिक्स करके एक अलग शैली प्रस्तुत की थी। 
  • साल 2001 में इन्हें यूनिवर्सल म्यूजिक के साथ काम करने का मौका मिला। जिसके साथ उन्होंने ‘काला कौवा काट खाएगा’ गाना रिलीज किया। जिसे उनके फैंस ने काफी पसंद किया। 
  • साल 2004 में दिलेर मेहंदी ने विशाल भारद्वाज के निर्देशन में बनी फिल्म मकबूल के लिए रू बा रू गाना गाया। 
  • 2004 में ही अहमद खान के निर्देशन में बनी फिल्म लकीर में इन्होंने ए आर रहमान संग ‘नचले’ गाना गाया। इस गाने में दिलेर मेहंदी और ए आर रहमान की जोड़ी को काफी पसंद किया गया। 
  • साल 2017 की सबसे बड़ी ब्लॉकबस्टर मूवी ‘बाहुबली 2’ में भी दोबारा हमें इनकी आवाज का जादू देखने को मिला। इस फिल्म में उन्होंने ‘जियो रे बाहुबली’ गाने को अपनी आवाज दी। 

दलेर मेहंदी की जीवन उपलब्धियां | life achievements of Daler Mehndi

  • साल 1996 में इनकी प्रसिद्ध एल्बम ‘बोलो तारा रा रा’ के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ पुरुष पॉप सिंगर पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 
  • साल 1997 में एल्बम ‘डर दी रब रब करदी’ के लिए इन्हें दोबारा और साल 1998 में एल्बम ‘हो जाएगी बल्ले बल्ले’ के लिए तीसरी बार भी सर्वश्रेष्ठ मेल पॉप सिंगर पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 
  • साल 2000 में फिल्म मृत्युदाता के लिए गाये ‘ना ना ना ना ना रे’ के लिए इन्हें ज़ी सिने पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। इसके अलावा साल 2000 में ही इन्हें मिलेनियम सीख़ पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था। 
  • दिलेर मेहंदी साहब संगीत और गायन के अलावा भी बहुत से सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर अपना सहयोग करते हैं। साल 2016 में इन्हें ‘भारत सेवा रत्न पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया था। 
  • 1994 में अल्माटी, कज़ाख़िस्तान में हुए इंटरनेशनल एथिनिक एंड पॉप म्यूजिक कॉन्टेस्ट में ‘वायस ऑफ एशिया’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 

दलेर मेहंदी के द्वारा किए गए सोशल वर्क | Social work done by Daler Mehndi

  • साल 1999 में कारगिल युद्ध के दौरान शहीद हुए सैनिकों के परिवारों को आर्थिक सहायता प्रदान की तथा कारगिल के सैनिकों से मिलने जाने वाले वे पहले सेलिब्रिटी भी बने। 
  • बहुत कम लोग जानते होंगे कि दिलेर मेहंदी एक जाने-माने गायक के साथ-साथ एक बहुत बड़े पर्यावरण प्रेमी भी है। पर्यावरण को बचाने और लोगों को इसके बारे में जागरूक करने के लिए साल 1998 में उन्होंने ‘दलेर मेहंदी ग्रीन ड्राइव’ अभियान शुरू किया था। जिसका मुख्य उद्देश्य पर्यावरण को स्वच्छ बनाना और अधिक से अधिक पेड़ लगाना था। इस अभियान के तहत उन्होंने राजधानी दिल्ली में 20 मिलियन पेड़ लगाने का टारगेट रखा था। 
  • साल 2004 में पाकिस्तान में ‘शौकत खान मेमोरियल कैंसर हॉस्पिटल और रिसर्च सेंटर’, लाहौर के लिए फ्री में परफॉर्मेंस किया था। इस शो की बदौलत 33 करोड रुपए इकट्ठे हुए थे, जिन्हें दिलेर मेहंदी जी ने शौकत खान मेमोरियल ट्रस्ट को दान के रूप में दे दिया था। 
  • दिलेर मेहंदी जी कैंसर, एड्स और थैलेसीमिया जैसी भयंकर बीमारियों से पीड़ित लोगों के लिए काम कर रहे हैं। 
  • दलेर मेहंदी जी ने उड़ीसा के बेघर बच्चों की भी मदद की और इसके अलावा 2001 के गुजरात भूकंप के दौरान भी उन्होंने काफी मदद की थी। 
  • भारत के अलावा अन्य देशों में भी वे सामाजिक सहायता व आर्थिक मदद के लिए जाने जाते हैं। 
  • वडोदरा चक्रवात के दौरान पीड़ित लोगों की मदद के लिए उन्होंने ₹65 करोड़ जुटाए थे। 
  • 2014 में दलेर मेहंदी ने इंटरनेशनल बास्केटबॉल महासंघ के उस फैसले का विरोध किया था, जिसमें इंटरनेशनल बास्केटबॉल महासंघ ने पगड़ी बांधकर बास्केटबॉल खेलने पर प्रतिबंध लगाने की बात कही थी। 

दलेर मेहंदी के बारे में अन्य रोचक बातें | Other interesting facts about Daler Mehndi

  • दलेर मेहंदी जी ने अपनी पहली परफॉर्मेंस केवल 13 साल की उम्र में दी थी, जिसमें उन्होंने लगभग 20 हज़ार लोगों के सामने स्टेज पर बिना डरे परफॉर्म किया था। 
  • दिलेर मेहंदी ने 6 साल से भी कम उम्र में गुरु ग्रंथ साहिब पढ़ना शुरू कर दिया था। 
  • दिलेर मेहंदी को धार्मिक शिक्षा अपने माता पिता से मिली थी। 
  • दलेर मेहंदी जी के प्रथम गुरु उस्ताद राहत अली खान थे। 
  • दलेर मेहंदी साहब को ढोल, तबला हारमोनियम और तानपुरा बजाना बहुत अच्छी तरह से आता है। 
  • दलेर मेहंदी ना केवल भारत में ही बल्कि दक्षिण अफ्रीका, बहरीन, मलेशिया, पाकिस्तान, हांगकांग आदि देशों में भी अपने बैंड के साथ परफॉर्म कर चुके हैं। 
  • दलेर मेहंदी जी अपनी अनोखी वेशभूषा के लिए भी जाने जाते हैं। उन्हें हमेशा रंग बिरंगी पगड़ी लंबे चौगे के साथ देखा जा सकता है। 

दलेर मेहंदी को हुई 2 साल की सजा | Daler Mehndi jailed for 2 years

पंजाब की पटियाला कोर्ट ने पंजाबी सिंगर दिलेर मेहंदी कि 2003 के मानव तस्करी के मामले में दी 2 साल की सजा को बरकरार रखा है। इस मामले में दलेर मेहंदी और उनके भाई शमशेर सिंह मेहंदी पर यह आरोप था कि 1998-99 में दोनों भाइयों ने 10 लोगों को अवैध तरीके से विदेश भिजवाया था। 

दिलेर मेहंदी लोगों को अपने क्रू का मेंबर बताकर अवैध तरीके से विदेश ले जाते थे। कबूतरबाजी यानि मानव तस्करी के इस मामले में पंजाब के बख्शीश सिंह ने साल 2003 में पटियाला कोर्ट में एक शिकायत दर्ज कराई थी जिसमें उन्होंने दोनों भाइयों पर यह आरोप लगाया था कि उन्होंने उसे विदेश भेजने के नाम पर उससे ₹20 लाख ले लिए। लेकिन ना ही उसे विदेश भेजा गया और ना ही उसके पैसे लौटाए गए। 

पंजाब की पटियाला कोर्ट ने साल 2018 में आरोपों को सही पाते हुए दिलेर मेहंदी को कबूतर बाजी के केस में 2 साल की सजा सुनाई थी। हालांकि उस समय उन्हें तुरंत ज़मानत मिल गई थी। लेकिन मामले में दोबारा नया मोड़ आ गया है और पटियाला कोर्ट ने उनकी 2 साल की सज़ा को बरक़रार रखते हुए उन्हें जेल भेजने का आदेश दे दिया है। रिपोर्ट के अनुसार उन्हें पंजाबी पटियाला सेंट्रल जेल भेजा जा सकता है। 

दोस्तों, आपको यह Daler Mehndi Biography in Hindi कैसी लगी, हमें कमेंट करके बताएं। दोस्तों, आपकी मेहनत तब रंग लाती है जब आप पूरी इमानदारी और सच्चे दिल से अपने सपनों का पीछा करते हैं। कभी भी झूठी सफलता हासिल करने के लिए पैसो के पीछे मत भागो। पैसा कमाना अच्छी बात है पर बेईमानी से नहीं बल्कि ईमानदारी से। लोगों को धोखा देकर नहीं, बल्कि उनकी मदद करके। 

Daler Mehndi Biography in Hindi
इनके बारे में भी पढ़े।

यह ब्लॉग ‘Daler Mehndi Biography in Hindi‘ आपको जरूर पसंद आया होगा। आपको यह ब्लॉग कैसा लगा, कमेंट करके जरूर बताएं। अगर आपको यह दलेर मेहंदी की जीवनी पसंद आई हो तो इन्हें अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।

ताकि जो लोग जीवन में कुछ करना चाहते हैं, कुछ बनना चाहते हैं। लेकिन जीवन की परेशानियों के कारण, उन्होंने हार मान ली है। वे इन ‘Daler Mehndi Biography in Hindi‘ से प्रेरित हो सकते हैं।

मेरे फेसबुक पेज पर जाकर इसे लाइक करें और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें, लिंक नीचे दिया गया है।

HTTPS://WWW.FACEBOOK.COM/SUCCESSMATTERS4ME-113401247074883

Add a Comment

Your email address will not be published.