दो मेंढ़कों की प्रेरणादक कहानी | A Best Moral Story In Hindi

अपना जीवन आप जिस तरह से जीना चाहते हैं, वैसे ही जिए।

दूसरों की परवाह न करें, वह आपका जीवन है।

@successmatters

वास्तविक जीवन पर आधारित यह Best Moral Story In Hindi आपके जीवन व सोचने के नजरिये को बदल सकती है। आप एक महिला है या पुरुष, यह कहानी आपके लिए एक प्रेरणादायक कहानी साबित हो सकती है।

आपको इस मोटिवेशनल हिंदी कहानी से बहुत कुछ सीखने को मिलेगा और आप अपनी जिन्दगी के प्रति Motivate Inspire हो जाओगे।

A Best Moral Story In Hindi Of Two Frogs

A Best Moral Story In Hindi Of Two Frogs

दो मेंढ़कों की बेस्ट मोटिवेशनल कहानी हिंदी में ।

एक बार मेंढको का एक छोटा सा झुंड एक घने जंगल से गुजर रहा था। सभी मेंढक बहुत खुश थे तथा हंसते, खेलते और फुदकते चले जा रहे थे। अचानक से उनमें से दो मेंढक एक गहरे गड्ढे में गिर गए। जब उन दोनों मेंढको ने शोर मचाया तो बाकी सभी मेंढक भी उन्हें देखने के लिए उस गड्ढे के चारों तरफ इकट्ठा हो गए। 

जब ऊपर इकट्ठा हुए मेंढको ने देखा कि गड्ढा बहुत गहरा है और उन दोनों मेंढको के बाहर निकलने की कोई उम्मीद नहीं है, तो उन्होंने यह बात उन दोनों मेंढको को बताई। शुरुआत में तो उन दोनों मेंढको ने इस बात को अनसुना कर दिया कि बाहर वाले मेंढक क्या कह रहे हैं और वह लगातार गड्ढे से बाहर निकलने की कोशिश करते रहे। 

लेकिन उनके प्रयासों के बावजूद भी गड्ढे के ऊपर किनारे बैठे मेंढको का झुंड अब भी बार-बार चिल्ला रहा था कि कोशिश करना छोड़ दो, क्योंकि अब वह कभी भी इस गड्ढे से बाहर नहीं आ सकते हैं। आखिरकार उन दोनों मेंढको में से एक मेंढक ने ऊपर वाले मेंढको के झुंड की बात पर ध्यान दिया। उसने कोशिश करना छोड़ दिया और हार मान कर बैठ गया। कुछ समय बाद ही उस गड्ढे में ही उसकी मौत हो गई। 

जबकि दूसरे मेंढक ने अपनी कोशिश जारी रखी। उसने उस गड्ढे से निकलने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी। जितनी कोशिश वह कर सकता था, उतनी कोशिश उसने की। लेकिन मेंढको की भीड़ अब भी उस पर चिल्ला रही थी कि, वह कोशिश करना बंद कर दें और अपने शरीर को कष्ट ना दें। क्योंकि कोशिश करने से उसे कोई फायदा होने वाला नहीं है। लेकिन वह लगातार कोशिश करता रहा। 

फिर अचानक वह बहुत जोर से कूदा और आखिरकार वह उस गड्ढे से बाहर आ गया। यह सब देखकर बाहर बैठे मेंढको का झुंड आश्चर्यचकित रह गया। 

जब सभी मेंढको ने उस मेंढक से पूछा कि जब हम लगातार चिल्ला रहे थे कि “कोशिश करना बंद कर दो। तो तुमने हमारी बात सुनी क्यों नहीं।” 

तो जवाब में उस मेंढक ने उन्हें बताया कि “वह बहरा है और गड्ढे के अंदर पूरे समय तक वह यही सोचता रहा कि बाहर बैठे मेंडक उसे प्रोत्साहित कर रहे हैं और बाहर निकलने के लिए लगातार उससे कह रहे हैं। इसलिए वह लगातार कोशिश करता रहा और आखिरकार बाहर आ गया।”

WHAT YOU LEARN FROM THIS BEST MORAL STORY IN HINDI ?

इस ‘बच्चों के लिए प्रेरक कहानी’ से हमें क्या शिक्षा मिलती है -:

1. आपके शब्दों का दूसरे के जीवन पर बड़ा प्रभाव हो सकता है। इसलिए कुछ भी बोलने से पहले आप क्या बोल रहे हैं, इसके बारे में सोचें। यह किसी के लिए जीवन मृत्यु का अंतर हो सकता है।
2. दूसरों की बात सुनकर कोशिश करना बंद न करें। क्योंकि आपके अंदर कितनी क्षमता है यह सिर्फ आपको पता है, दूसरों को नहीं।
3. प्रोत्साहित करते रहने से असंभव दिखने वाले काम भी संभव हो जाते हैं।
4. जो व्यक्ति कोशिश करता है वह एक ना एक दिन सफल हो ही जाता है।
A Best Moral Story In Hindi Of Two Frogs

इनके बारे में भी पढ़ें -:

आपको मेरा यह ब्लॉग ‘दो मेंढ़कों की कहानी। A Best Moral Story In Hindi Of Two Frogs ‘ कैसा लगा, मुझे कमेंट करके बताएं।

और अगर आपको मेरा यह ब्लॉग ‘A Best Moral Story In Hindi Of Two Frogsअच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों को भी शेयर करें।

ताकि जो लोग जीवन में कुछ करना  चाहते है, कुछ बनना चाहते।  लेकिन जीवन की मुसीबतों के कारण हार मान कर बैठ गए है वे इस Best Moral Story In Hindi Of Two Frogs से inspire हो सके , motivate हो सके।

मेरे फेसबुक पेज पर जाकर इसे लाइक व अपने दोस्तों के साथ शेयर करें, लिंक नीचे दे दिया गया है।

https://www.facebook.com/successmatters4me-113401247074883

Add a Comment

Your email address will not be published.